fatty-liver-1

FATTY LIVER-फैटी लीवर

What is Fatty Liver?-फैटी लीवर क्या है?

Table of Contents

Fatty Liver एक medical condition है जिसमे कि आपके लीवर में अतिरिक्त fat यानि चर्बी जमा हो  जाता है।

विश्व के कई हिस्सों में fatty liver की बीमारी तेजी से आम हो रही है, जो विश्व स्तर पर लगभग 25% लोगों को प्रभावित कर रही है।

fatty-liver
fatty liver

हालाँकि छोटे मात्रा में fat होना normal है लेकिन

5% से अधिक अगर आपके लिवर में fat है तो उससे fatty liver कहते है।

बहुत अधिक शराब पीने से fatty liver हो सकता है। शराब के अलावा कई सारी चीज़े है जिससे fatty liver हो सकता है।

Fatty Liver की कई स्थितियाँ Non-Alcoholic Liver Disease (NAFLD) की category में आती हैं,

जो वयस्कों और बच्चों में (पाया जाना आम बात है)सबसे आम यकृत रोग है।

Fatty Liver होने के कई कारण हो सकते है। जैसे कि:-

1.Obesity– Obesity यानि मोटापा।

मोटापे में निम्न-श्रेणी की सूजन होती है जो liver fat को बढ़ावा दे सकती है।

यह अनुमान लगाया गया है कि 30-90% मोटापे से ग्रस्त वयस्कों में NAFLD (Non-Alcoholic Liver Disease) है,

और यह बच्चों में , मोटापे के कारण बढ़ रहा है।

2.Excess Belly Fat– Excess Belly Fat यानि पेट की अतिरिक्त चर्बी।

सामान्य वजन वाले लोग fatty liver विकसित कर सकते हैं यदि वे “viscerally obese” यानि “असंगत ढंग से मोटे” हैं,

जिसका अर्थ है कि जिनके कमर के आसपास बहुत ज़्यादा चर्बी है।

fatty-liver-2
Difference between healthy and fatty liver

3. Type 2 Diabetes– Insulin resistance यानि  इंसुलिन प्रतिरोध

जो की टाइप 2 diabetes में होता है

जिससे type 2 diabetes वाले लोगो के liver में चर्बी जमा होना शुरू हो जाता है।

4.Intake of Refined Carbs– रिफाइंड कार्ब्स का बार-बार सेवन करने से liver fat को बढ़ावा देता है,

खासकर जब अधिक मात्रा में अधिक वजन या इंसुलिन प्रतिरोधी (Insulin resistance) व्यक्तियों द्वारा सेवन किया जाता है।

5.Sugary beverage consumption-सोडा और ऊर्जा पेय जैसे चीनी-मीठे पेय फ्रुक्टोज (Fructose) में उच्च होते हैं,

जो बच्चों और वयस्कों में liver के चर्बी को बढ़ाते हुए दिखाया गया है।

Non-alcoholic fatty liver (NAFL)

इस प्रकार का Liver रोग का प्रारंभिक, प्रतिवर्ती चरण है। दुर्भाग्य से, यह अक्सर undiagnosed रह  जाता है।

समय के साथ, NAFL एक अधिक गंभीर Liver की स्थिति को जन्म दे सकता है जिसे

Non-Alcoholic Steatohepatitis (NASH) के रूप में जाना जाता है।

What is Fatty Liver Grade 2? -फैटी लीवर ग्रेड 2 क्या है?

साधारण Fatty Liver वाले कुछ ही लोग इस स्थिति के चरण 2 को विकसित करने के लिए आगे बढ़ते हैं,

जिन्हें Nonalcoholic Steatohepatitis (NASH) कहा जाता है।

Nonalcoholic steatohepatitis (NASH)

यह एक साधारण Fatty Liver की तुलना में बहुत अधिक गंभीर है।

NASH का मतलब है कि आपके लीवर में सूजन है।

NASH के साथ होने वाली सूजन और Liver cell की क्षति fibrosis और cirrhosis

जैसी गंभीर समस्याएं पैदा कर सकती है, जो LIVER CANCER के प्रकार हैं।

NAFLD (Non-alcoholic fatty liver) वाले लगभग 20% लोगों को NASH (Nonalcoholic Steatohepatitis) है।

यदि आपको NASH है या cirrhosis, तो आपके पास इस तरह के लक्षण हो सकते हैं:

पेट में सूजन

आपकी त्वचा के नीचे बढ़े हुए रक्त वाहिकाएं

हथेलियों का लाल होना

Jaundice यानि  पीलिया नामक स्थिति के कारण त्वचा और आंखें पीली दिखाई देना

Fatty Liver Symptoms-फैटी लीवर के लक्षण

Fatty Liver के कई संकेत और लक्षण हैं,

वास्तव में आपको एहसास भी नहीं हो सकता है कि आपके पास फैटी लीवर है।

Fatigue and weakness- थकान और कमजोरी

Slight pain in the right or center abdominal area- दाएं या केंद्र उदर क्षेत्र में दर्द होना।

Elevated insulin levels-ऊंचा इंसुलिन का स्तर

Elevated triglyceride levels-ऊंचा ट्राइग्लिसराइड का स्तर

Loss of appetite-भूक न लगना

Nausea and vomiting-जी मिचलाना और उल्टी

Yellowing of eyes and skin- आँखों और त्वचा का पीला पड़ना

Fatty Liver के सूक्ष्म लक्षण हो सकते हैं और अक्सर रक्त परीक्षण द्वारा इसका पता लगाया जाता है।

NASH में आमतौर पर अधिक स्पष्ट लक्षण शामिल होते हैं, जैसे पेट में दर्द और अस्वस्थ महसूस करना।

Alcohol-Related Fatty Liver Disease(ALD)- शराब से संबंधित फैटी लिवर रोग

Alcohol-Related Fatty Liver रोग की रोकथाम है।

यह आमतौर पर तब बेहतर होता है जब आप शराब पीना बंद कर देते हैं।

यदि आप शराब पीते रहते हैं, तो ALD गंभीर समस्या पैदा कर सकता है। इसमें शामिल है:

Enlarged Liver– बढ़े हुए Liver यह हमेशा लक्षणों का कारण नहीं बनता है,

लेकिन आपके पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द या असुविधा हो सकती है।

Alcohol Hepatitis– यह Liver में सूजन है जो बुखार, जी मिचलाना,

उल्टी, पेट दर्द और पीलिया (त्वचा और आंखों की पीली) का कारण बन सकती है।

Liver में सूजन आपके लिवर में घाव कर सकता है जिससे

alcoholic hepatitis plus  का लक्षण पैदा हो सकता है, जिससे की:

आपके पेट में बड़ी मात्रा में तरल पदार्थ का निर्माण हो सकता है जिससे medical  term  में ascites कहते है।

Liver में उच्च रक्तचाप हो सकता है

आपके शरीर में रक्तस्राव हो सकता है

भ्रम और व्यवहार में परिवर्तन हो सकता है

Liver Failure हो सकता है

यदि आप भारी मात्रा में शराब  पीते हैं, तो अपने doctor से बात करें।

वे आपके स्वास्थ्य को बचाने के लिए आपके पीने को नियंत्रण में रखने में मदद कर सकते हैं।

Fatty Liver Treatment- फैटी लिवर का इलाज

Fatty Liver के उपचार की पहली पंक्ति आमतौर पर स्वस्थ आहार और exercise के संयोजन के

माध्यम से वजन कम करना है। वजन कम करना उन स्थितियों को संबोधित करता है

जो NAFLD में योगदान करती हैं। आदर्श रूप से, अगर आप अपने शरीर का 10% भी वजन कम करते है

तो आपके लिए फायदेमंद है, लेकिन जोखिम कारकों में सुधार स्पष्ट हो सकता है यदि आप अपने शुरुआती तौर पे

3% से 5% भी वजन कम कर देते हैं। Weightloss surgery उन लोगों के लिए भी एक विकल्प है,

जिन्हें अपने शरीर से बहुत  ज़्यादा वजन घटना है।

NAFLD के ज्यादातर मामलों में कोई लक्षण नहीं दिखता है,

यह अक्सर चिकित्सा ध्यान में तभी आता है जब आप किसी और कारन liver की परीक्षा करवाते है।

रोग की गंभीरता को निर्धारित करने के लिए किए गए परीक्षणों में शामिल हैं:

fatty-liver-4
fatty liver treatment

1.Complete blood count– पूर्ण रक्त गणना

2.Liver enzyme and liver function tests– लिवर एंजाइम और लिवर फंक्शन टेस्ट करता है

3.Tests for chronic viral hepatitis (hepatitis A, hepatitis C and others)

क्रोनिक वायरल हेपेटाइटिस के लिए टेस्ट (हेपेटाइटिस ए, हेपेटाइटिस सी और अन्य)

4.Celiac disease screening test– सीलिएक रोग स्क्रीनिंग टेस्ट

5.Fasting blood sugar– भूखे पेट खून में शर्करा की मात्रा

6.Hemoglobin A1C, which shows how stable your blood sugar is

हीमोग्लोबिन A1C, जो दर्शाता है कि आपकी रक्त शर्करा कितनी स्थिर है

7.Lipid profile, which measures blood fats, such as cholesterol and triglycerides– लिपिड प्रोफाइल, जो रक्त वसा

को मापता है, जैसे कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स

8.Abdominal ultrasound– पेट का अल्ट्रासाउंड

9.Computerized tomography (CT) scanning or magnetic resonance imaging (MRI)

कम्प्यूटरीकृत टोमोग्राफी (सीटी) स्कैनिंग या चुंबकीय अनुनाद इमेजिंग (एमआरआई)

10.Transient elastography– क्षणिक इलास्टोग्राफी

11.Magnetic resonance elastography– चुंबकीय अनुनाद इलास्टोग्राफी

12.Liver tissue examination– यकृत ऊतक परीक्षा

आपको शराब छोड़ने की भी आवश्यकता होगी। यह एकमात्र तरीका है

जिससे आप liver को खराब होने से बचा सकते हैं।

आप पहले से ही liver की क्षति के कुछ पूर्ववत करने में सक्षम हो सकते हैं।

अपने doctor से बात करें कि आपको कैसे मदद मिल सकती है।

शराब पीने के लक्षणों को सुरक्षित रूप से छोड़ने और प्रबंधित करने के लिए

आपको चिकित्सकीय निगरानी वाले detox program की आवश्यकता हो सकती है।

यदि आपको NASH के कारन  जटिलताएं  है जैसे कि cirrhosis या liver  failure  तो आपको liver  transplant  करने की जरुरत है।

NASH वाले लोग जो liver transplant करवाते हैं, वे अपना ध्यान अच्छे से रखे ।

रोज exercise करे। सप्ताह के अधिकांश दिनों में दिन में कम से कम 30 मिनट exercise करे ।

यदि आप अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं, तो exercise आपके वजन को कम करने में मदद करेगी ।

अपने liver के प्रति दयालु बनें। वे काम न करें जो इसे और अधिक कठिन बना दे।

शराब को छोड़ दें। निर्देशानुसार ही दवाएं लें। कोई भी herbal उपचार आजमाने से पहले अपने doctor से बात करें।

सिर्फ इसलिए कि कोई उत्पाद herbal है, इसका मतलब यह नहीं है कि यह सुरक्षित है।

पौष्टिक भोजन खाएं। बहुत सारे फल, सब्जियां, साबुत अनाज, और स्वस्थ वसा वाले पौधे-आधारित आहार खाये ।

जरूरत पड़ने पर वजन कम करें। यदि आपका वजन स्वस्थ है,

तो स्वस्थ आहार और exercise करके इसे बनाए रखने के लिए काम करें।

अपने blood sugar पर नियंत्रण रखें। अपने blood  sugar  को नियंत्रण में रहने के लिए

अपने doctor के निर्देशों का पालन करें। अपनी दवाओं को निर्देशित और अपने blood sugar  पर बारीकी से निगरानी करें।

FATTY LIVER DIET- फैटी लिवर डाइट

खाद्य पदार्थ और पेय जो आपको fatty liver को ठीक करने के लिए खाना चाहिए

Coffee- कॉफ़ी

कॉफ़ी की Study से पता चला है कि fatty liver की बीमारी से ग्रहस्त जो लोग

कॉफ़ी पीते है उनके लिवर कि क्षति कम होती है मुकाबले उनके जो कॉफ़ी नहीं पीते है।

कैफीन जो कि कॉफ़ी में पाया जाता  है वह abnormal  liver  enzymes को  कम करने में मदद करता है

जिससे liver  disease  के बढ़ने का खतरा कम होजाता है।

Broccoliब्रोकोली

ब्रोकली आपके लिवर के चर्बी को कम करने में मदद करता है।

ब्रोकली में “glucosinolate” नामका ingredient हे जो कि लिवर को मदद करता है detoxifying enzymes produce करने के लिए।

इसमें sulfur compound भी होता है जो की लिवर को तंदुरुस्त रखने में मदद करता है।

Tofuटोफू

Study से पता चला है  soya  protein  जो कि टोफू में पाया जाता है

उससे खाने से लिवर में जमे हुए चर्बी को कम करने में मदद करता है, टोफू low in fat और high in protein है।

Fishमछली

Fatty  fish  जैसे कि salmon , sardines , tuna , और trout  यह omega-3 fatty acids

से भरपूर होते है। Omega-3 fatty acids  liver  के चर्बी को कम करने में मदद करता है।

Oatmealदलिया

दलिया जिससे खाने से आपको अच्छा carbohydrates  और fibre  मिलता है

जो कि आपके शरीर को energetic  रखने में मदद करता है और साथ ही साथ

आपके weight  को भी balance  रखने में मदद करता है।

Walnutsअखरोट

अखरोट omega-3 fatty acid से भरपूर होता है

और Omega-3 fatty acids  liver  के चर्बी को कम करने में मदद करता है।

Avocado- एवोकाडो

एवोकाडो healthy  fats  से भरपूर होते है यह liver को ख़राब होने से बचाता है

और इसके अंदर fibres  भी होते है जो weight  control  करने में मदद करता है।

Milk- दूध

दूध whey protein से भरपूर होता है और यह हमारे लिवर को डैमेज होने से बचाता है।

Sunflower seeds- सूरजमुखी के बीज

Sunflower seeds  जो कि vitamin  E और anti -oxidant  से

भरपूर होते है यह हमारे liver  को ख़राब होने से बचाते है।

Garlic- लहसुन

लहसुन जो कि आपके weight  को maintain  करने में मदद करता है और आपके लिवर को तंदुरुस्त रखता  है

इसके अंदर 2 बहुत ही important  ingredients है “selinium” और “allicin” जो आपके liver 

के चर्बी को कम करने में मदद करता है।

खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ जो आपको fatty liver को ठीक करने के लिए नहीं खाना चाहिए

Alcohol यानि शराब। शराब fatty liver की बीमारी के साथ-साथ liver की अन्य बीमारियों का एक प्रमुख कारण है।

Sugar यानि चीनी। कैंडी, कुकीज़, सोडा और फलों के रस जैसे चीनी  खाद्य पदार्थों से दूर रहें। High blood sugar से liver में चर्बी  के निर्माण का  मात्रा बढ़ सकता  है।

Fried foods यानि तले हुए खाद्य पदार्थ। इससे आपके शरीर में fat और calories  दोनी बढ़ सकते है।

Salt यानि नमक। बहुत अधिक नमक खाने से आपके शरीर में अतिरिक्त पानी जमा हो सकता है।

CONCLUSION- निष्कर्ष

Fatty Liver से कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। सौभाग्य से, इसे प्रारंभिक अवस्था में संबोधित किया जा सकता है।

एक स्वस्थ आहार का पालन करने से liver की अतिरिक्त चर्बी कम हो सकती है

और liver की गंभीर बीमारी के लिए इसकी प्रगति के जोखिम को कम कर सकती है।

यह लक्षण दिखाई दे तो हो सकता है Fatty Liver !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *